Pages

Tuesday, 14 March 2017

माँ नर्मदा संरक्षण एवं स्वच्छता अभियान - मातृरक्षा सेवा संगठन ॐकारेश्वर -

आज मावन कही न कही अपने स्वार्थ के लिए माँ नर्मदा के साथ अन्य जल स्त्रोतो को भी मैला और प्रदुषित करते जा रहा है उस मानव रूपी इन्सान को यह भी नही पता कि  हमारे इन किये गए प्रदुषण और गन्दगी से आने वाले समय में हमें एक बूँद जल भी पीने के लिए नही मिल पायेगा  अगर इसी स्थिति को मावन बडा़वा देते आये तो  प्रलय निश्चित है।
मानव एक एक बूंद के लिए तरस जायेगा।
माँ नर्मदा को शिव जी द्वारा वरदान प्राप्त है कि "हे देवी तुम प्रलय में भी विध्यमान रहोगी तुम सदियों तक इस पृथ्वी पर निरंतर बहती रहोगी तुम्हारे दर्शन मात्र से ही मनुष्य का कल्याण हो जायेगा"
*आज माँ नर्मदा से उज्जैन में प्रसिद्ध क्षिप्रा नदी को जीवन मिला है कल अन्य नदियों जलाशयो को भी जीवन मिलेगा ।
अपने स्वार्थ के लिए   हम  हमारी जीवन दायिनी नदियों को प्रदुषित करते जायेंगे तो भावी पीढी़यो के लिए उज्वल कल कहा तलाशेंगे।
----------------------------
हमारा मुख्य उद्देश्य माँ नर्मदा को पूर्ण रूप से प्रदुषण मुक्त बनाना है और सम्पूर्ण विश्व में जनजागरूकता बढा़ना है और यह एक उद्देश्य मात्र नही परिकल्पना है  सभी नर्मदा सेवको की हम दिन देखते न रात जब माँ हमे बुलाती है हम चले जाते उसके आँचल से प्रदुषण रहित कचरे, सामग्री  को अलग करने कभी 4 बजे रात से तो कभी 5 बजे रात से तो कभी दिन मे
----------------------------
--आओं सब साथ मिलकर माँ नर्मदा के संरक्षण हेतु हमारे जीवन के बचे कुछ छणो को माँ नर्मदा को अर्पित कर हमारा जीवन सार्थक करे एवं हमारी आने वाली पीढी़यो को उज्वल कल दे ताकि उन्हे स्वच्छ और निर्मल जल मिलता रहे और  हमे देख वो भी माँ की सेवा इसी निःस्वार्थ भाव के साथ करते रहे ।
__आप भी जुडे अभियान से हमे प्रेरित करे हमारा मार्गदर्शन करे जुडे़ हमारे स्वच्छ नर्मदा अभियान से लिंक के माध्यम से लाईक करे ।
--------------------
https://www.facebook.com/HolyMaNarmada/
जागरूकता वीडीयो को देखकर अधिक से आधिक शेयर करे,,,,,।


No comments:

Post a Comment